लोहड़ी और दसवें पातशाह गुरु गोविन्द सिंह की जयंती एक संग

//लोहड़ी और दसवें पातशाह गुरु गोविन्द सिंह की जयंती एक संग

लोहड़ी और दसवें पातशाह गुरु गोविन्द सिंह की जयंती एक संग

पंजाबियों के प्रमुख त्योहार लोहड़ी और सिख धर्म के दसवें पातशाह गुरु गोविन्द सिंह की जयंती इस बार एक साथ पड़ रही है। दोनों तिथि 13-14 जनवरी को है, इसके चलते पंजाबियों में खासकर सिख, खत्री और सिंधी समाज के लोगों में उत्साह है। गुरुद्वारा नीचीबाग के ग्रंथी भाई धर्मवीर सिंह कहते हैं कि लोहड़ी और गुरु गोविन्द सिंह महाराज का प्रकाश पर्व एक साथ पड़ने का मतलब दोहरी खुशी है। इससे समाज के लोग काफी उत्साहित है। मीनू ग्रोवर कहती हैं कि लोहड़ी भी खासकर ऐसे लोगों की जिनकी नई नई शादी हुई हो या फिर जिसके घर में बच्चा पैदा हुआ है उसकी लोहड़ी खास होती है। मगर लोहड़ी के साथ ही दसवे पातशाह गुरु गोविन्द सिंह का प्रकाश पर्व एक साथ पड़ने से सभी के लिए यह उत्सव काफी महत्वपूर्ण हो गया है। इसमें सभी मस्ती करेंगे और जमकर लोहड़ी और प्रकाशोत्सव मनायेंगे। लोहड़ी पर इस बार जमकर धमाल होगा। गुरुद्वारों से लेकर सिख, पंजाबी खत्री व सिंधी समाज के लोगों के घरों में खुशियां मनायी जायेगी। कालोनियों में खूब उत्सव होगा।

By |2019-01-10T08:14:30+00:00January 10th, 2019|आस्था\पर्व|Comments Off on लोहड़ी और दसवें पातशाह गुरु गोविन्द सिंह की जयंती एक संग

About the Author: